गुरुवार, 4 जनवरी 2018

कोटा



कोटा शहर राजस्थान में चम्बल नदी के किनारे स्थित है वर्तमान में अपने कोचिंग इंस्टीट्यूट्स के कारण जाना जाता है| किसी समय अकेलगढ़ के नाम से जाना जाता था| यह नगर 1274 से 1624 तक करीब साढ़े तीन सौ वर्षों तक हाड़ा शासकों के अधीन रहा| 1624 में बूँदी के शासक रावरतन के पुत्र माधोसिंह को कोटा का पहला राजा बनाया गया| 1631 में मुगल सम्राट शाहजहाँ के द्वारा एक शाही फरमान जारी करके इसे अलग राज्य की मान्यता प्रदान कर दी| राव दुर्जन के शासनकाल में यहाँ मराठों ने अपना सिक्का जमाया| मराठों से छुटकारा पाने के लिए 1817 में कोटा के महाराज उम्मेद सिंह ने अंग्रेजों से संधि कर ली| अंग्रेजों से संधि करने वाला राजस्थान का प्रथम राज्य था| 






कृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके अवश्य प्रोत्साहित करें|

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें











हमारीवाणी

www.hamarivani.com