शुक्रवार, 23 मार्च 2018

मुझे जाँच लीजिये



भागने की कला में प्रवीण पैदाइशी हूँ,
जब चाहे मुझे आजमाके देख लीजिये|
छोड़ पाठशाला कई बार भाग आया घर,
टीचरों से मेरे स्वर्ग जाके पूछ लीजिये|
छिपता था ऐसी जगह ढूँढ़ हारते थे मित्र,
कहते थे इसे कभी खेल में न लीजिये|
अरे! बैंक वाले मित्र हो जाएगा विश्वास,
एक बार कर्ज देके मुझे जाँच लीजिये|
 




कृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके अवश्य प्रोत्साहित करें|

गुरुवार, 22 मार्च 2018

डाटा

1- जब मैंने पहली बार अपनी कनपटी पर,
सफेद बाल देखा। 
तो भूल गया सुषमा, सुशीला, सुरेखा।
वक्त का मैसेज ज्यों गाल पर चाँटा,
यू हैव यूज्ड फिफ्टी परसेंट ऑफ योर डाटा।

2-  चलो थोड़ा सा ही सही भ्रष्ट हो लें,
बनाकर पार्टी सन्तुष्ट होलें|
न्यायालय कहाँ रोकता है तुम्हें,
राजनीति में उत्कृष्ट हो लें|

शनिवार, 3 मार्च 2018

होली पर कुछ रंग


होली पर कुछ रंग,
मेरी कलम से बिना भंग|

विजय माल्या से लिया, जिन असली संदेश।
नीरव मोदी खेलि के, होली भगे विदेश।।
पी एन बी के हाथ, लगी खाली पिचकारी।।1।।
राहुल बाबा ने रखी, सब नातिन की लाज।
नानी के घर खेलने, पहुंचे होली आज।।
सत्ता तौ गयी छूटि, कहाँ बैठें सत्तारी।।2।।
खांसी अब आती नहीं, मफलर हुई गयो तंग।
इस होली में भी नहीं, जमा सके हैं रंग।।
भ्रमित केजरीवाल दिख रहे निपट अनारी।।3।।
'विमल'


कृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके अवश्य प्रोत्साहित करें|

हमारीवाणी

www.hamarivani.com