रविवार, 28 अप्रैल 2019

अनचाहे


चाहता हूँ कि
प्रेम न करूँ उसे।
समस्या अनेक,
उम्र, जाति, धर्म,
व्यवसाय, रँग-रूप,
धन-दौलत
और भी बहुत कुछ।
असामान्य असाधारण,
किन्तु चाहने से क्या?
कोई जोर नहीं,
जो होना था हो गया।
अनचाहे मैं कहीं खो गया।

कृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके अवश्य प्रोत्साहित करें|

हमारीवाणी

www.hamarivani.com